Breaking News
Home / Slider Homepage / प्रशांत गायकवाड़ के संरक्षण में चल रहा धड़ल्ले से अवैध निर्माण

प्रशांत गायकवाड़ के संरक्षण में चल रहा धड़ल्ले से अवैध निर्माण

WhatsApp Image 2019-04-23 at 12.34.17 AM (1)

के पश्चिम प्रभाग में यदि आपको अवैध निर्माण करना हो तो आपको कहीं भी इधर उधर भटकने की ज़रूरत नही है। सीधा आप के पश्चिम प्रभाग के सहायक आयुक्त प्रशांत गायकवाड़ के पास जाइये ज़रूरत के अनुसार चढ़ावा चढ़ाइए और अपना काम कीजिये। मजाल है कि कोई अन्य अधिकारी या कर्मचारी आपकी ओर आंख उठाकर देखने की हिम्मत कर सके?
जोगेश्वरी पश्चिम के फातिमा हॉस्पिटल के पास वैशाली नगर रोड पर स्थित वेस्टर्न ऑयल शॉप को देखकर तो कम से कम ऐसा ही लगता है। जहां बिना किसी परमिशन के देखते ही देखते वन प्लस वन का शानदार गाला खड़ा हो गया। इस अवैध निर्माण की शिकायत भी कई बार विभिन्न स्तरों पर की गई। पर अवैध निर्माण पर कार्रवाई की बात तो दूर उल्टे अवैधनिर्माणकर्ताओं द्वारा शिकायतकर्ताओं का ही उत्पीड़न किया जा रहा है। कहा जाता है कि यहां पर काम करने वाले मुकादम द्वारा डायरेक्ट सहायक आयुक्त प्रशांत गायकवाड़ को ही मैनेज किया गया है। जब अवैध निर्माण को रोकने का जिम्मेदार सबसे बड़ा अधिकारी ही कठपुतली बन जाये तो फिर दूसरे किसी अधिकारी की क्या मजाल जो उसपर कोई कार्रवाई करे।

WhatsApp Image 2019-04-23 at 12.34.17 AM
सवाल यह है कि आखिर प्रशांत गायकवाड़ के पश्चिम प्रभाग में इतने लंबे समय से कैसे डंटे हैं?? इनके कार्यकाल में ही क्यों के पश्चिम प्रभाग में अवैध निर्माण की बाढ़ आई हुई है। अवैध निर्माण कर्ताओं और प्रशांत गायकवाड़ की सांठगांठ पर बड़े अधिकारियों की निगाह क्यों नही पड़ती। क्या प्रशांत गायकवाड़ ने पूरे सिस्टम को ही अपना गुलाम बना लिया है?? ऐसे बहुत से प्रश्न हैं जिनका उत्तर देने वाला कोई नही है।
हम जिस अवैध निर्माण का ज़िक्र कर रहे हैं उसके लिए कोई भी कानूनी प्रक्रिया नही अपनाई गयी कहा जाता है कि केवल सहायक आयुक्त को चढ़ावे के रूप में एक मोटी रकम दी गयी है। अब वह मोटी रकम क्या है यह तो सही सही नही मालूम पर इस अवैध निर्माण की स्थिति से यह अंदाजा तो सहज ही लगाया जा सकता है कि चढ़ावे की रकम लाखों में होगी। तो क्या के पश्चिम प्रभाग के सहायक आयुक्त को चढ़ावा चढ़ा देने के बाद कानून नाम की चिड़िया की आंख फूट जाती है?? यह बड़ा प्रश्न है।
जोगेश्वरी के वेस्टर्न ऑयल शॉप पर चल रहे अवैध निर्माण कार्य अब लगभग पूरा होने को है ऐसे में अब यह देखना दिलचस्प होगा कि इस पर किसी अन्य अधिकारी की निगाह भी पड़ती है या फिर सहायक आयुक्त महोदय ने अन्य अधिकारियों की आंखों पर भी पट्टियां बांधी हुई है।

About Satya Sodhak Rahi

Check Also

झुणका भाकर केंद्र से क्यों चिपके हैं सुनील यादव?

भले ही राज्य सरकार ने झुणका भाकर केंद्र चलाने की पूरी परिकल्पना को 20 साल …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *